About Us

April 08, 2019
 
Ankhuva
Ankhuva

नमस्कार दोस्तों!

मैं 'अली', आप सभी मित्रों का अपनी वेवसाईट ankhuva.com में तहें दिल से स्वागत करता हूँ   और ANKHUVA को पढ़ने लिए आभार व्यक्त  करता हूँ |
आप सभी मित्रों को  बहुत-बहुत  धन्यवाद भी देना चाहता हूँ।



हमारा उद्देश्य

आओ मिलकर भुलाते हैं अपने ग़म को
ये भी अच्छा है हमारे लिए,
कुछ क्षण भूल जाएगा ग़म हम को |


  पृथ्वी पर उपस्थिति सभी प्राणीयों में मनुष्य ही ऐसा जीव है जो सभी जीवो से उच्च कोटि में आता हैA मनुष्य का जीवन जटिलताओं से युक्त है। मानवजीवन के बहुत सारे सांसारिक संघर्षों तनाव युक्त जीवन शैली आदि से जुझता रहता है। इन्हीं जटिलताओं को कम करनेसंघर्षों पर विराम लगाने तनाव को दूर करने आदि समस्याओं का समाधान पाने के लिए साहित्य के शरण में आता है। साहित्य समंदर से कुछ मोतियों को चुन कर एक माला रूप में अपने पाठकों के लिए ANKHUVA के माध्यम से लाया हूँ। ANKHUVA का उद्देश्य मानव जीवन तनाव को कम करना है चाहे थोड़े समय के लिए ही क्यों ना हो। लोगों का साहित्य के प्रति रूचि बढ़े,लोगों मे सकारात्मकता का विकास हो,जीवन में सफलताओं की मंजिल को पाये। यही आशा और अभिलाषा है।



  कुछ मेरी भी सुन लो

दोनों जहाँ में जहाँ किसी की ना चली
वहाँ चली तो सिर्फ अली की ही चली


        दोस्तों ये समझना की यह मेरा घमण्ड है तो भूल होगी क्यों कि मेरी रूचि कविताएं लिखना और लोगों को सुनाना है और पेशे से वकील हूँं ये दोनों आदतें मुझे लोगों से जुदा करती है क्योंकि ना तो कवि किसी की सुनता है और ना वकील, ये दोनों किसी भी जगह सिर्फ अपनी सुनाने लगते है। कहानीकवितागजलशायरी,आदि विधाएं लिखना मेरा शौक है। मेरी कुछ कविता समाचार पत्रों में छप चुकी है।

मैं गोण्डा (उत्तर प्रदेश) INDIA का रहने वाला हूँ और शुरुआत से ही मेरी साहित्य में रूचि रही है। दोस्तों आपके जीवन में खुशियां भरने का ANKHUVA का हमेशा प्रयास रहता है और आगे भी रहेगा। आप इस वेबसाइट को रोज पढ़िए और  ईश्वर आपको सफल बनाये यही ANKHUVA की कामना है।

धन्यवाद

Contect ID
Email--yali54014@gmail.com
facebook
twitter
Instagram



No comments:

Theme images by Storman. Powered by Blogger.