21st Century of the Confederate Life-जीवन हिंदी कविता

February 28, 2019

motivational poem in hindi

21st Century of the Confederate Life,motivational poem in hindi

motivational poem in hindi
जीवन 

हाथों से मूर्तिरूप गढता हूँ।
बातों से, मुख में शब्दों
को भरता हूँ।
नयनों के भाव अक्षर,
पढना उसे बताता हूँ।
नैतिकता की पाठशाला
हो चुकी बाजारू है
जीवन के संग चलना
मैं उसको सिखलाता हूँ।
गिरने के भय से
डर-डर के मत चलना।
गिरकर फिर उठना 
 उठकर फिर चलना।


कष्टों में जो प्रेम गीत गाता है।

पथ उसको मंजिल तक पहुॅचाता है।।
परिश्रम प्रस्वेद से
कार्य धरा को सिक्त करो।
परोपकार का विस्तृत स्थान
करूणा- करण में रिक्त करो।
हार जीत का क्या करना
तुमको है जीवन जीना।
नहीं पशु सा
गुणवान मनुष्य सा।।







No comments:

Theme images by Storman. Powered by Blogger.